Dreams in rural Odisha

Babaloo Sahoo, Jajati Mohanta, Lipun Behera, Priyamudra Nayak and Satyabhama Majhi shared the PARI story, 'Drums and dreams beyond pickle and papads' with their students in classes 6, 7,8 and 9.

बबलू साहू, जजाति मोहंता, लिपुन बेहरा, प्रियमुद्रा नायक, और सत्यभामा मांझी ने कक्षा 6, 7,8 और 9 में पढ़ने वाले अपने छात्रों से पारी की कहानी 'अचार और पापड़ से आगे ढोल और सपने' के बारे में चर्चा की.

PARI Education has reached over 87 organisations across India.

Would you like to be involved?

Get in touch